कुल्लू मनाली में घूमने की 20 सबसे अच्छी जगह

मनाली भारत के उत्तरी राज्य हिमाचल प्रदेश में स्थित एक हिल स्टेशन है। यह एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है जो अपनी प्राकृतिक सुंदरता, शांत, सुखद और खूबसूरत पहाड़ों की वादियों के लिए जाना जाता है।

यह हिमालय के पहाड़ों में स्थित है जो हरे-भरे जंगलों और बर्फ से ढकी चोटियों से घिरा हुआ है। ब्यास नदी कस्बे से होकर बहती है, जो इसकी सुंदरता में चार चांद लगाती है।

मनाली में हर वर्ष कई सांस्कृतिक उत्सवों और कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है, जैसे कि अंतर्राष्ट्रीय हिमालयी महोत्सव और मनाली विंटर कार्निवाल, जो दुनिया भर के पर्यटकों को आकर्षित करते हैं।

इसके साथ ही मनाली में घूमने की जगह लोकप्रिय हैं जैसे रोहतांग दर्रा, सोलंग घाटी और कुल्लू के पास स्थित हिलपॉइंट है, जो पर्यटकों की यात्रा को शानदार बनाता है।

मनाली क्यों जाना चाहिए ?

मनाली उन लोगों के लिए स्वर्ग है जिन्हें प्रकृति के हसीन वादियों को देखने की रुचि रखते हो और साथ ही साथ जीवन के अनमोल लम्हों को यादों के रूप में कैद करने के लिए साहसिक गतिविधियां जैसे – पहाड़ों की ट्रेकिंग, राफ्टिंग, पैराग्लाइडिंग, स्नोफॉल और स्कीइंग की तरह एडवेंचर पसंद है।

मनाली में घूमने की जगह

आइए जानते हैं मनाली में घूमने की जगह कौन-कौन सी हैं जहां हर किसी को यात्रा के दरमियान निश्चित तौर पर विजिट करना चाहिए –

Related Article

1. रोहतांग पास

रोहतांग पास हिमालय के पूर्वी पीर पंजाल जंगलों में स्थित एक उच्च पहाड़ी शिखर है, जो मनाली शहर से लगभग 61 किलोमीटर दूर है। जब पूरा भारत गर्मियों से झुलस रहा होता है उस वक्त यहाँ 6 फिट ऊँची बर्फ देखने को मिल जाती है ।

रोहतांग दर्रा लाहौल और स्पीति घाटियों का प्रवेश द्वार है जो कुल्लू घाटी को हिमाचल प्रदेश से जोड़ने वाला एक प्रमुख मार्ग है।

यह दर्रा आमतौर पर मई से नवंबर तक खुला रहता है, लेकिन भारी बर्फबारी के कारण अक्सर सर्दियों के महीनों में बंद हो जाता है।

रोहतांग पास ट्रेकिंग, स्कीइंग, स्नोबोर्डिंग और पैराग्लाइडिंग सहित कई साहसिक खेलों की पेशकश करता है। दर्रा कई प्राकृतिक आकर्षणों का भी घर है, जैसे ब्यास कुंड, दर्रे के पास स्थित एक पवित्र तालाब, और नेहरू कुंड, भारत के पहले प्रधान मंत्री जवाहरलाल नेहरू के नाम पर एक प्राकृतिक झरना है।

2. सोलंग वैली – Solang Valley

solang valley manali image 1
solang valley manali image

मनाली का दिल कहा जाने वाला सोलंग घाटी, जिसे सोलंग नाला के नाम से भी जाना जाता है, कुल्लू जिले में स्थित एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। यह मनाली शहर से लगभग 14 किलोमीटर उत्तर पश्चिम में स्थित है और अपनी प्राकृतिक सुंदरता और साहसिक खेलों के लिए जाना जाता है।

यह सर्दियों के महीनों में स्कीइंग और स्नोबोर्डिंग और गर्मियों के महीनों में पैराग्लाइडिंग, ज़ोरबिंग और अन्य साहसिक खेलों के लिए एक बेहतरीन गंतव्य है।

3. पार्वती वैली

पार्वती हिल एक सुंदर और सुरम्य गंतव्य है जो अपनी प्राकृतिक सुंदरता और सांस्कृतिक महत्व के लिए जाना जाता है। मनाली और आसपास के क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों के लिए यह एक फतेहपुर पिकनिक स्पॉट है ।

paragliding manali photo
paragliding in manali photo

यह जगह मनाली के मध्य में स्थित है जो की आसपास के पहाड़ों और घाटियों के मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता है। यदि आप फोटोग्राफी में रुचि रखते हैं तो पैदल यात्रा करते हुए खूबसूरत प्रकृति के खूबसूरत नजारों को कैमरे में कैद कर सकते हैं

इसके अतिरिक्त यहां पर कैंपिंग, ट्रैकिंग रिवर राफ्टिंग पैराग्लाइडिंग हॉट एयर जिपलाइन जैसे और भी एडवेंचर एक्टिविटी का अनुभव ले सकते हैं ।

4. Hot Air Balloon manali

Hot Air Balloon manali
Hot Air Balloon manali image

एयर बैलून राइड अगर आप करना चाहे तो मनाली से 5 किलोमीटर दूर पर ये राइड होती है जिसका लुप्त उठा सकते है लगभग 7 मिनट की राइड होती जो थोड़ी देर ऊपर रहती है और फिर नीचे वापस आ जाती है ।

इसके चार्ज समय के आधार पर निर्धारित होते है ।

5. River Rafting In manali

River Rafting In manali
River Rafting In manali

मनाली से मणिकरण रास्ते पर व्यास नदी में राफ्टिंग का भरपूर आनद लेना बिलकुल भी मिस न करे यहाँ पर 1 से तीन किलोमीटर की राइड होती है जिसके अलग अलग चार्ज होते है 1 किलोमीटर की राइड का चार्ज मिनिमम 1 हजार रूपए होता है ।

उस राइड के दौरान यदि आप फोटो ग्राफी करवाना चाहे तो उसके 1 हजार अलग से देना होता है ।

रिवर राफ्टिंग जाते समय अपने साथ एक अलग से ड्रेस जरूर रखे क्योंकि पहले से पहने हुए कपडे बिलकुल गीले हो जायेंगे ।

6. हिडिमंबा देवी मंदिर

हडिम्बा मंदिर मनाली में एक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक और ऐतिहासिक स्थल है जो हिंदू संस्कृति और इतिहास में रुचि रखने वाले पर्यटकों के लिए एक जरूरी धार्मिक स्थल है

इस मंदिर का हिन्दू पौराणिक में वर्णन मिलता है राक्षस कुल में जन्मी हिडिम्बा देवी, पांडव भीम की पत्नी थी जिन्हे महाभारत ख़त्म होने के बाद पांडव कुल में जगह दी गयी थी उसके उपरांत उन्होंने मनाली के इसी जगह पर विराजमान होकर कई बर्षो तक तपस्या की थी ।

मंदिर मनाली के मध्य में स्थित है जो हरे-भरे जंगलों से घिरा हुआ है। यह एक सुंदर और मनोरम स्थान है, जहां पत्थर और लकड़ी की नक्काशी इसकी शोभा बढ़ा रही है।

7. अटल टनल

मनाली से 3 किलोमीटर दूर स्थित इस टनल की खासियत है की यह दुनिया की सबसे लम्बी सुरंग है जो की समुद्र लेवल से 10 हजार से भी ज्यादा की उचाई पर बनी है जो कुल्लू और लाहुल जिला को जोड़ने का काम करती है।

इस सुरंग की लम्बाई लगभग 9 किलोमीटर के आस पास है यह टनल भारतीय इंजीनियरिंग का एक जीता जगता सबूत है जो विश्व भर में भारतीय इंजीनियरिंग का डंका बजा रहा है ।

इसे क्रॉस करना ही अपने आप में एक शानदार अनुभव दिलाता है । जब आप मनाली घूमने जाये तो इस टनल से सफर करते हुए जाये ।

8. जोगिनी वॉटरफॉल

मनाली में वशिष्ट विलेज से ट्रैकिन करते हुए जब पर्यटक इस झरने तक पहुंचते है तब उन्हें झकझोर देने बाला नजारा दिखाई देता है

ट्रैकिंग रास्ते इस प्लेस को और भी खास बनता जो की जंगली गलियारों से होकर गुजरता है मनाली में घूमने लायक जगहों में ये झरना पर्यटकों को काफी आकर्षित करता है ।

पहाड़ो से गिरती हुयी पानी जलधारा और दूर तक उड़ती हुयी छोटी छोटी बूंदे परतको को मंत्र मुग्धा कर देती है ।

9. अंजनी महादेव मंदिर

मनाली के सोलंग वैली में में स्थित ये मंदिर हिन्दू धार्मिक स्थल है जो भगवान शिव को समर्पित है जो कुछ दूरी के ट्रैकिंग रास्ते में है ।

ज्यादातर मनाली आने बाले टूरिस्ट इस फेमस जगह को Explore करना मिस कर देते है लेकिन अगर आप solang valley जा रहे है तो वहां से कुछ ही दूरी पर अंजनी महादेव मंदिर है जहाँ एक बार दर्शन के लिए जा सकते है ।

इस मंदिर को और भी खास बना देता है शिव प्रतिमा के ऊपर गिरने बाला प्रकृति का एक शानदार झरना इसे अपने लिस्ट में जरूर शामिल करे क्योकि यहाँ मंदिर के साथ साथ झरने का भी अनुभव ले पाएंगे ।

10. सेथन गांव

sethan village manali
sethan village manali

सेठान गांव मनाली में घूमने वाली सबसे अच्छी जगह में से एक है जो हर साल हर साल हजारों पर्यटकों द्वारा दौरा किया जाता है। पारंपरिक संस्कृति और क्षेत्र की जीवन शैली का अनुभव करने में रुचि रखने वालों के लिए यह शानदार जगह है।

मनाली से सेथन लगभग 14 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है ये वही गांव है जहाँ पर सबसे पहले इग्लू बनाये गए थे तब से ये इतना प्रसिद्द हुआ की मनाली के टॉप डेस्टिनेशन में आने लगा ।

सेठान गांव हिमालय पर्वत श्रृंखला में स्थित है और हरे-भरे जंगलों और बर्फ से ढकी चोटियों से घिरा हुआ है। जहां पारंपरिक पत्थर और लकड़ी के घर हैं।

इसके साथ साथ यहाँ स्नो स्लाइडिंग, स्केटिंग, स्नो बाइकिंग, एयर फ्लाइट साहसिक गतिविधियों का आनंद ले सकते हैं।

11. मनु टेम्पल

मनु मंदिर एक हिंदू मंदिर है जो पुराने मनाली क्षेत्र में स्थित है। इसका नाम ऋषि मनु के नाम पर रखा गया है, जिन्हें हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार प्रथम मानव जाति का निर्माता माना जाता है।

ऋषि मुनि मनु कई बर्षो तक इसी स्थान पर ध्यान साधना किया करते थे, हिंदू सभ्यता में रुचि रखने वाले पर्यटकों के लिए एक जरूरी जगह है।

ऐसे महान सृस्टि के रचयिता का एक बार दर्शन करना बनता है क्योकि बड़े भाग्यशाली होते है वो लोग जिन्हे ऐसे महान ऋषियों के दर्शन करने का मौका मिलता है ।

12. Barod parsha watrefall

झरने के आस पास का हर भरा वातावरम इसे और भी खास बना देता है जो आने बाले पर्यटकों को काफी प्रभावित करता है पहाड़ो से गिरती हुई तेज जलधारा और ठंडी ठंडी हवाएं शैलानियों को तरोताजा कर देती है ।

इस जगह में पहुंचने के लिए जिस गाड़ी से सफर कर रहे है वो आपको यहाँ तक आसानी से पंहुचा देगा ।

13. club house

हिडिम्बा देवी मंदिर के पास में स्थित क्लब हॉउस जहाँ कुछ रूपए का टिकट लेकर प्रवेश कर सकते सकते है

आपके साथ बच्चे हो या बड़े हो सबके लिए यहाँ पर कुछ न कुछ एक्टिविटी होती है जिनके अलग अलग चार्ज निर्धारित है इसके अलाबा यहाँ शॉपिंग का भी ऑप्शन है और साथ में खाना और एक्टिविटी का आनंद ले सकते है

14. मणिकरण गुरुद्वारा

इस गुरूद्वारे में दर्शन करने हजारो भक्त रोज आते है यहाँ पर हर दिन लंगर भी चलता है

ममणिकरण गुरुद्वारा में एक जो खास चीज है वो है यहाँ का गर्म पानी जो प्राकृतिक होता है सोचिये जरा इतनी ठण्ड बाली जगह पर इतना हॉट वाटर का होना बहुत ही अद्भुत है ।

गुरद्वारे के बगल से बहती हुयी व्यास नदी का मनोरम दृश्य यहाँ से शानदार दिखाई देगा इसके साथ ऊँचे ऊँचे पहाड़ और झरने इस स्थान को खास बनाते है

15. Mall Road

आप मनाली के खाने पीने की चीजों का स्वाद लेना न भूले माल रोड से अपने चाहने बालो के लिए गिफ्ट आइटम ले सकते है जो काफी बढ़िया मिल जाये है । मनाली में घूमने लायक जगह विजिट करने के बाद माल रोड जा कर शॉपिंग कर सकते है ।

वैसे तो यह बाजार सर्दियों के कपड़ो के लिए प्रसिद्द है जहाँ बिभिन्न प्रकार के ठंडियों में पहने जाने बाले अच्छे कपडे मिल जाते है लेकिन मनाली का यह मार्किट बहुत ज्यादा महंगा भी है ।

16. Marhi

यहाँ हर मौसम में बर्फीले पहाड़ो को देख सकते है और साथ में स्नो एक्टिविटी का मनोरंजन लेने यहाँ जरूर जाये

यहाँ तक पहुंचने के लिए सड़क में गाड़ी पार्क करने के बाद पैदल , घुड़सवारी या फिर याग की सवारी करके चढ़ाई रास्ते तक जा सकते है ।

मनाली में घूमने की जगह में इस प्लेस में जरूर विजिट करे ।

17. हिम वैली फन सिटी

मनाली ट्रिप में अगर आप फॅमिली के साथ है और बच्चे भी है तब आपको यहाँ जरूर जाना चाहिए क्योकिं ये खास तौर पर बच्चो के लिए बनाया गया है यहाँ उनके लिए एक्टिविटी होती है जो उन्हें काफी पसंद आएगा ।

18. वैष्णो देवी मंदिर

कुल्लू मनाली का सबसे लोकप्रिय मंदिरो में से एक वैष्णोदेवी माँ का टेम्पल है जो पहाड़ो के ऊपर बसा ये स्थान टूरिस्टो को काफी आकर्षित करता है देवी दर्शन के साथ यहाँ से प्रकृति का सौंदर्य दिखाई देता है ।

फोटोग्राफी के शौकीन लोगो के लिए इस मंदिर में अवश्य जाना चाहिए क्योकिं वहां से व्यू पॉइंट काफी शानदार लगता है ।

मलाना गांव

कुल्लू शहर से 45 किलोमीटर दूर यह गांव भारत का एक प्राचीन Village है यहाँ पर पहाड़ी संस्कृति और बिलकुल अलग सभ्यता के लोग निवास करते है जिनके बारे कहा जाता है की ये लोग सिकंदर सेना के बंसज है ।

यदि आपको पहाड़ी लोगो के रहन सहन को देखने की इक्षा हो तब आपक ट्रैकिंग करते हुए जा सकते है।

कुल्लू मनाली कब जाना चाहिए ?

मनाली में लगभग साल के 12 महीने मौसम एक जैसा रहता है और हर समय यहाँ बर्फ को देखा जा सकता है लेकिन जनवरी और फरवरी के में snow fall होता है जिसकी बजह से देशी और विदेशी पर्यटक इन दो महीनो में सबसे ज्यादा मनाली घूमने जाते है ।

  • गर्मियों के मौसम में जब भारत के अन्य जगहों में झुलसती हुयी धुप होती तब यहाँ ठंडक देने बाली सर्दियों का खुशनुमा मौसम रहता है उसे समय अपनी छुट्टिया मानाने के लिए भारी संख्या में टूरिस्ट आते है और ये समय मनाली का पीक टाइम होता है ।
  • अगर आप कुल्लू मनाली में बर्फबारी देखने के लिए जा रहे है तब आपको नवंबर से लेकर फरवरी तक का समय बेस्ट रहेगा क्योकि इस समय यहाँ बर्फ गिरती है और बर्फ में होने बाले सभी स्पोर्ट्स कानंद ले सकते है ।
  • अगर आप जुलाई से नवंबर के बीच मनाली की यात्रा पर जा रहे है तब उस समय बारिश की बजह से रास्ते ख़राब हो जाते जिसकी बजह से बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ता है जाने से पहले एक बार जानकारी जरूर ले तभी मनाली ट्रिप करे ।

मनाली में स्नोफॉल कब होता है?

हिमांचल प्रदेश के मनाली में 15 दिसंबर से लेकर 20 फरवरी तक कभी भी बर्फबारी हो सकती हैलेकिन जनवरी के महीने में यहाँ पर्याप्त मात्रा में बर्फ गिरती है जिसके कारण उड़ती हुयी बर्फ को देखने बाले पर्यटकों की संख्या में इजाफा होता है।

मनाली घूमने का खर्चा क्या होगा ?

यदि आप मनाली के पर्यटन स्थल 15 अप्रैल के बाद जून तक मनाली घूमने जाते है तो आपकी जेब थोड़ा ढीली हो सकती है क्योकि ये समय यहाँ का पीक टाइम होता गर्मियों की झुलसती धुप से बचने के लिए भारी संख्या में सैलानी (पर्यटक ) मनाली की वादियों में सुकून पाने के लिए पहुंचते है ।

  • तो अगर आप गर्मियों में मनाली जाते है तो यहाँ रहने और खाने का खर्चा दुगुना हो जाता है और इस समय नार्मल होटल की प्राइस 2000 प्रतिदिन हो जाता है और खाने पीने के साथ घूमने का कन्वेन्स भी महंगा हो जाता है ।
  • अगर सर्दियों में मनाली में घूमने जाते है तब यहाँ पर ठहरने के लिए मिनिमम एक दिन का होटल का चार्ज 800 से 1000 में अच्छी सुबिधा के साथ साथ आसानी से मिल जायेगा ।
  • खाने की अगर बात करे तो मनाली में अन्य जगह की अपेक्षा खाना थोड़ा महंगा होता है जो 250 एक बार का भरपेट अच्छा खाना मिल जाता है.
  • घूमने के लिए यदि आप कार बुक करते है तो 1500 रूपए प्रतिदिन में मिल जाते है जो की आपको होटल से सुबह पिक करेंगे और शाम को वही पर छोड़ देंगे ।
  • अगर आप 2 लोग आते है तब 3 दिन के मनाली के टूर में आपके राउंड फिगर बात करे तो 5 हजार रूपए लग जायेंगे इसके अलाबा मनाली के एडवेंचर जैसे पैराग्लाइडिंग, रिवर राफ्टिंग , हॉट एयर इत्यादि एडवेंचर लेना चाहे तो अलग से पैसे लगेंगे ।

मनाली कैसे जाये ?

मनाली उत्तरी भारतीय राज्य हिमाचल प्रदेश में स्थित एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है। मनाली पहुंचने के कई तरीके हैं :-

ट्रेन से मनाली कैसे पहुंचे-

भारत में सबसे ज्यादा सैलानी अपने सफर का एन्जॉय ट्रैन से ही करते है और करे भी क्यों न इंडियन रेलवे इतना सस्ता जो है

लेकिन मै आपको बता दू की पहाड़ी इलाका होने की बजह से यहाँ रेलवे नहीं है इसका नजदीकी रेलवे स्टेशन जोगिंदर नगर है जहाँ प्रतिदिन बड़े बड़े शहरो से ट्रेनों का आवागमन होता है इसके अलाबा चंडीगढ़ या दिल्ली तक ट्रैन से पहुंचकर इन शहरो से दिन भर मनाली के लिए बस उपलब्ध है ।

वाया हवाई जहाज

मनाली का निकटतम हवाई अड्डा भुंतर एयरपोर्ट है, जो शहर से लगभग 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। हवाई अड्डे से, मनाली पहुंचने के लिए आपकी राय पर टैक्सी या स्थानीय बस ले सकते हैं ।

अगर आपके शहर से मनाली के लिए हवाई सुबिधा नहीं तो तब आपको पहले चंडीगढ़ एयरपोर्ट में पहुंचना होगा फिर वहां से भंटूर के लिए डायरेक्ट एयर सेवा मिल जाएगी जो चंडीगढ़ से मनाली की दूरी 309 किलोमीटर है

बया रोड –

मनाली उत्तर भारत के प्रमुख शहरों जैसे दिल्ली, चंडीगढ़, जयपुर और शिमला से सड़क मार्ग से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। मनाली पहुंचने के लिए आप इन जगहों से टैक्सी या फिर बस ले सकते हैं।

अगर आप अपनी पर्सनल वाहन से यहाँ आना चाहे तो पहले सुनिश्चित कर ले की आप इतनी ऊँचे पहाड़ो और संकरी गलियारों में गाड़ी ड्राइव कर सकते है तभी आप खुद से गाड़ी चलाते हुए आये अन्यथा मै आपको ये बिलकुल भी सलाह नहीं दूंगा की आप अपनी वाहन से आये ।

अगर आप पहाड़ी क्षेत्र से है और आपको माउंटेन में गाड़ी ड्राइव करने का अच्छा अनुभव हो तभी खुद ड्राइविंग करते हुए मनाली पहुंचे ।

कुल्लू मनाली में कहा ठहरे ?

कुल्लू मनाली में रुकने के लिए major Option है होटल , रिसोर्ट और कैंपिंग जहाँ आप रुके सकते है ।

  • अगर आप होटल में रुकना चाहते है मॉल रोड के आस पास के होटल थोड़े महंगे होते है जिनका मिनिमम एक दिन का चार्ज 2 हजार रूपए होता है लेकिन अगर माल रोड से एक से 2 किलोमीटर की दूरी पर रूम बुक करते हो तो 1 हजार प्रतिदिन के हिसाब से मिल जायेंगे ।
  • होटल के अलाबा मनाली में कॉटेज (टेंट) में रह सकते है जो हिल स्टेशन घूमने का अलग ही अनुभव होता है इसका चार्ज मिनिमम १५०० होता है जो आपको सेथन गांव इग्लू , कुल्लू और पारवती में कई स्थानों में आसानी से मिल जायेंगे.

मनाली कैसे घूमे ?

अब बात आती है की आखिर मनाली कैसे घूमे तो इसके लिए कई बिकल्प है जैसे – शेयरिंग में टैक्सी लेकर घूम सकते है किराये पर कार या बाइक लेकर आसानी से घुमा जा सकता है

अगर बाइक किराये पर लेते है तो सिंगल बाइक में 2 लोग घूम सकते है अगर आप स्कूटी लेंगे जिसका चार्ज मिनिमम 600 प्रतिदिन होता है इसके साथ अलग अलग गाड़ियों के अलग चार्ज देने होते है ।

यदि कार से यात्रा करते है तो 1500 प्रतिदिन के हिसब से लगता है ।

FAQ – Related Kullu Manali

मनाली क्यों प्रसिद्ध है?

हिमालय पर्वत के बर्फ की ऊँची ऊँची चोटियों से ढंका मनाली प्रसिद्द है अपने हिल स्टेशन , झरने , नदियां और सर्दियों में Snow fall के साथ साथ सेव की खेती के लिए जिसकी बजह से देश और विदेश के शैलानियों के आकर्षण का केंद्र है ।

मनाली ट्रिप कितने दिन की करनी चाहिए ?

मनाली को अच्छे तरीके से घूमने के लिए आपके पास कम से कम 4 दिन का समय होना चाहिए तभी मनाली और इसके आस पास के सभी Tourist Place को कवर कर पाएंगे ।

कुल मिलाकर, मनाली की प्राकृतिक सुंदरता, साहसिक खेल, सांस्कृतिक महत्व और अन्य लोकप्रिय स्थलों से निकटता इसे एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल बनाती है। उपरोक्त मनाली में घूमने की जगह अत्यधिक खूबसूरत हैं जिन्हें यात्रा के दौरान अवश्य विचार करना चाहिए ।

और पढ़े –

6 thoughts on “कुल्लू मनाली में घूमने की 20 सबसे अच्छी जगह”

  1. सोच रहा हूं आने के लिए एकबार वैसे किस सीजन में सबसे अच्छा रहेगा कृपया सही मार्ग दर्शन करें

    Reply

Leave a Comment