Top 17] कोलकाता में घूमने की जगह | कोलकाता टूरिस्ट प्लेस

प्राचीन भारत के ब्रिटिश काल में जीने की चाहत रखने वाले लोगों के लिए कोलकाता शहर सबसे उपयुक्त स्थान है यह शहर अंग्रेजों की गुलामी के दौरान हिंदुस्तान की राजधानी हुआ करता था। यह देश की राजधानी नई दिल्ली से 1535 और मुंबई से 1918 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

समय से लेकर कोलकाता आज की आधुनिक समय तक निरंतर विकसित होता गया और आज लगातार कई वर्षों से देश के टॉप 5 सबसे बड़े शहरों में शुमार है।

आज का कोलकाता भारतीय टूरिज्म की दृष्टि से भी बहुत ही महत्वपूर्ण है कोलकाता में घूमने की जगह में शामिल यहां की अद्भुत प्राचीन वास्तुकला, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक धरोहरों के साथ-साथ रविंद्र नाथ टैगोर समय के पुरानी यादें मौजूद हैं।

कोलकाता के लोगों के बीच में तीन चीजें बेहद खास है वह है मिठाई, मछली और खेलना भारत में फुटबॉल पॉपुलर हो या ना हो लेकिन यहां खिलाड़ियों को पूजा जाता है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि कोलकाता सिटी में ऐसी चीजें देखने के लिए जो भारत के किसी भी अन्य शहरों में नहीं है चलिए जानते हैं आखिर कोलकाता में घूमने लायक जगह कौन कौन सी है जो अत्यंत दर्शनीय है-

और पढ़ेंदार्जिलिंग घूमने की जानकारी के लिए इसे पढ़ें

कोलकाता में घूमने की जगह

1. इको पार्क कोलकाता

कोलकाता टूरिज्म के तरफ से इको पार्क को 2019 में विकसित किया गया यहां घूमने फिरने के लिए पर्यटकों को नौका विहार से लेकर दुनिया के सात अजूबों को यहां देख सकते हैं।

इसके अलावा भी आप देखने के लिए बहुत कुछ है जैसे कि- म्यूजिकल फाउंटेन, कैफेटेरिया ,फाउंटेन शो, टॉय ट्रेन की सवारी, साइकिलिंग के अलावा और भी चीजें मौजूद है।

यदि आप बच्चों के साथ घूमने जा रहे हैं तो यह जगह आपके लिए बिल्कुल परफेक्ट होगी क्योंकि यहां उनके योग्य देखने के लिए बहुत कुछ है यहां घूमने का सबसे अच्छा समय शाम 4:00 बजे से रात्रि 8:00 बजे तक होता है।

2. दक्षिणेश्वर काली मंदिर

कोलकाता शहर में दो चीज बहुत ही मशहूर है एक तो यहां कर लाजवाब खाना और दूसरा दुर्गा पूजा जिसे बड़े धूमधाम से मनाया जाता है।

वैसे तो देश में हर राज्य में काली मंदिर है लेकिन हम बात करें भारत में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले काली मंदिरों की तो कोलकाता का दक्षिणेश्वर काली मंदिर है जो शहर के मध्य भाग में स्थित है। तथा यह 51 शक्तिपीठों में से एक है।

इस मंदिर का पौराणिक वर्णन पुराणों में मिलता है कथा के अनुसार भगवान विष्णु द्वारा माता सती के शव के कई टुकड़े करने के बाद देवी के दाहिने पैर की 4 उंगलियां यहीं पर गिरी थी तभी से यह स्थान अस्तित्व में आया और भक्तों के द्वारा पूजा जाने लगा।

3. एक्वाटिका वॉटर पार्क

एक्वाटिका कोलकाता का एक प्रसिद्ध थीम पार्क इसमें हर आयु वर्ग के लोगों के लिए रोमांचकारी वाटर स्लाइड, स्विमिंग पूल, समुद्री लहरें जैसी और भी अन्य गतिविधियां मौजूद है। इसके साथ-साथ आप कोलकाता में किसी खास जगह पर रुकने के जुगाड़ में है तो आप इस स्थान पर अपने ठहरने की व्यवस्था बना सकते हैं यहां बहुत बड़ा रिसोर्ट भी है जो मेहमानों अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सुविधाएं मुहैया कराते हैं।

और पढ़ें-

आप भी जानिए गंगासागर की यात्रा कोलकाता से कैसे की जाती है

4. बाबर हाट

कोलकाता टूरिस्ट प्लेस में एक से बढ़कर एक पर्यटन स्थल है लेकिन 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बाबर हाट खासकर उन लोगों के लिए परफेक्ट पिकनिक स्पॉट साबित हो सत्ता है जो शहर के व्यस्त जीवन से परेशान है ।

यहां बंगाली ग्रामीण जीवन शैली जिसमें – झील, झरने, नदिया, तालाब ,खेत ,खलिहान, सब्जियों के बगीचे आम के बाग, देखने को मिलेगा और अगर आप मांसाहारी है तो आपको पश्चिम बंगाल के सबसे स्वादिष्ट मछली का पकवान खाने के लिए यहां मिल जाएगा ।

5. जेम्स प्रिंसेप घाट

ब्रिटिश शासनकाल के समय सन 1841 में निर्मित हुगली नदी के तट पर एक सुव्यवस्थित घाट है जो कोलकाता के सबसे पुराने मनोरंजन स्थलों में से एक है।

पर्यटकों के आकर्षण को ध्यान में रखते हुए तथा कोलकाता टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए हुगली नदी के तट पर साल 2012 में 2 किलोमीटर का सौंदर्यीकरण किया गया जिसमें सुसज्जित फूल के बगीचे, चिल्ड्रन पार्क, नाव की सवारी, रोशनी युक्त पानी के फव्वारे तथा मनोरंजन के अलावा और भी कई साधन उपलब्ध है जो आगंतुकों की यात्रा को रोमांचकारी बनाते हैं।

अगर आप भी इस शहर में शाम के समय घूमने का प्लान बनाते हैं तो यहां जरूर जाएगा और यहां की फेमस आइसक्रीम और ठेले में लगे स्ट्रीट फूड का लुप्त जरूर उठाइएगा ।

6. बोटैनिकल गार्डन हावड़ा

भारत के पहले वनस्पति उद्यान के रूप में जाना जाने वाला बोटैनिकल हावड़ा में स्थित है जिसे आचार्य जगदीश चंद्र बोस उद्यान के नाम से भी जाना जाता है।

इसका मुख्य आकर्षण 250 वर्ष पुराना विशाल बरगद का वृक्ष है जो लगभग 3 एकड़ के दायरे में फैला हुआ है। यहां हर रोज हजारों सैलानी घूमने आते हैं और इसे देखकर सबको हैरानी होती है कि कोई पेड़ इतना बड़ा कैसे हो सकता है।

इसके साथ साथ यहां सैकड़ों प्रजातियों की दुर्लभ पेड़ पौधे और वनस्पतियों को देखा जा सकता है।

7. हावड़ा ब्रिज

हुगली नदी पर बना हावड़ा ब्रिज गेटवे ऑफ कोलकाता के नाम से जाना जाता है कुछ लोग इसे रवींद्र सेतु भी कहते हैं इसे ब्रिटिश शासन में अंग्रेजो के द्वारा बनाया गया था लेकिन आज के समय में यह टूरिस्ट स्पॉट के लिए भी जाना जाता है जो लोग पहली बार कोलकाता आते है वह इसका दीदार करने निश्चित रूप से जाना पसंद करते हैं।

8. फ्लोटिंग मार्केट

दक्षिण कोलकाता के पटोली इलाके में स्थित यह मार्केट अन्य बाजारों से बिल्कुल विपरीत है क्योंकि यह एक झील पर बनाया गया है। यहां की दुकाने पानी में चलती हुई नाव पर लगाई जाती है इसमें रोजमर्रा की जिंदगी में उपयोग होने वाली सभी वस्तुएं जैसे – सब्जियां, फल, चाय, मछलियां, और जनरल सामान मिलते।

अगर आप अभी तक ऐसी मार्केट नहीं देखे तो एक बार यहां जरूर जाइएगा सच में आपको बहुत ज्यादा आनंद आएगा।

9. फेरी राइड

दोस्तों अगर आप अपनी कोलकाता यात्रा को और भी शानदार बनाना चाहते हैं तो हुगली नदी में विद्यासागर सेतु पर जाकर फेरी राइड की सवारी जरूर करें सच में इसकी यात्रा आपको काफी ज्यादा सुखद अनुभव कैसा कराएगी।

10. खिदिरपुर फोल्डिंग ब्रिज

आपको जानकर हैरानी होगी कि भारत में एकलौता फोल्डिंग पुल कोलकाता शहर के खिदिरपुर में हुगली नदी पर बना हुआ है जो आज से लगभग 127 साल पुराना है।

इस पुल के नीचे से जब कोई जहाज गुजरती है तो यह अपने आप दोनों तरफ ऊपर की तरफ खुल जाती है जैसा कि आपने किसी हॉलीवुड फिल्मों में देखा होगा।

अपनी यात्रा के दौरान कोलकाता में घूमने वाली जगह की सूची में इस टूरिस्ट प्लेस को जरूर शामिल करेगा और पुल के ऊपर खड़े होकर छोटी बड़ी जहाजों को क्रॉस करते हुए देख पाएंगे ।

11. कोलकाता ट्रंप राइड

एशिया का सबसे पुराना ट्रंप कोलकाता में ही है जो यात्रियों को आज भी सफर कराता है सन 1873 के आसपास इसे खींचने के लिए घोड़े लगे रहते थे लेकिन 1902 से इलेक्ट्रिक डंप सड़कों पर दौड़ना प्रारंभ हो चुका था।

कोलकाता जाने वाले पर्यटक इसकी सवारी करना बिल्कुल भी नहीं बोलते क्योंकि आज के आधुनिक दुनिया में सिर्फ इसी शहर में ऐसी गाड़ियां चलती है। इसका सफर करना है तो कोलकाता ही आना पड़ेगा

12. बेलूर मठ

कोलकाता के पास स्थित एक बहुत ही दर्शनीय स्थल है जिसे बेलूर मठ के नाम से जाना जाता है यह हावड़ा जिले में हुगली नदी के तट पर बसा हुआ।

  • लगभग 40 एकड़ के विशाल दायरे में फैले बेलूर मठ का निर्माण स्वामी विवेकानंद जी ने सन 1898 में करवाया था।
  • स्वामी विवेकानंद जी ने अपने जीवन के अंतिम क्षणों को इसी मठ में गुजारे थे
  • बेलूर मठ के क्षेत्र में मां शारदा देवी मंदिर, रामकृष्ण परमहंस और स्वामी विवेकानंद जी के मंदिर हैं

13. साइंस सिटी

दोस्तों अगर आप अंतरिक्ष खगोलीय विज्ञान के कारनामों को जानने में रुचि रखते हैं तो आपका कोलकाता साइंस सिटी इंतजार कर रही है।

यहां पर रखी हुई चीजें सच में आपको चौंका देंगी इसके साथ ही यहां डायनासोर की विभिन्न प्रजातियां को बड़ी खूबसूरती से दर्शाया गया है।

14. विक्टोरिया मेमोरियल

आधुनिक समय में विक्टोरिया जमाने में जीने की चाहत रखने वाले लोगों को यह अवश्य जाना चाहिए इस टूरिस्ट प्लेस में उस दौर की सभी चीजों को संग्रहित आज भी रखा गया। कोलकाता शहर के बीचों-बीच स्थित विक्टोरिया मेमोरियल बहुचर्चित पर्यटन स्थल है इसका निर्माण ब्रिटिश शासक महारानी विक्टोरिया के 25 सालों के शासन का जश्न मनाने के लिए बनाया गया था।

शाम के समय जब से लाइटिंग से रोशन किया जाता है और म्यूजिक के धुन में फाउंटेन शो कराया जाता है तब पर्यटकों की भीड़ इस खूबसूरती को देखने के लिए मरती है।

15. कोलकाता का अलीपुर चिड़ियाघर

विक्टोरिया मेमोरियल से पैदल दूरी पर स्थित अलीपुर चिड़ियाघर भारत का सबसे पुराना चिड़ियाघर है इसकी शुरुआत 1875 में की गई थी।

यहां पर्यटकों को रॉयल बंगाल टाइगर, शेर ,हाथी, भालू, जिराफ, मोर के अलावा सैकड़ों प्रकार के पंछी देखने को मिल जाएंगे।

लेकिन दूसरे चिड़िया घरों के जैसे यहां गाड़ी में बैठ कर घूमने की सुविधा उपलब्ध नहीं है आप यहां पैदल यात्रा करते हुए इसका आनंद ले सकते हैं ।

16. भारतीय म्यूजियम

कोलकाता के तलतला इलाके में स्थित है भारतीय म्यूजियम कोई आम संग्रहालय नहीं है बल्कि भारत का सबसे पुराना म्यूजियम है जिसे ब्रिटिश काल के समय 1814 में बनाया गया था।

यहां देश-विदेश के अनोखी कलाकृतियों के नायाब कलेक्शन को संग्रहित किया गया है अगर आप भी पुराने जमाने की ऐतिहासिक कलाकृतियों के देखने की शौक रखते हैं तो एक बार आपको यहां जरूर जाना चाहिए

खुलने का समय– सोमवार छोड़कर प्रतिदिन सुबह 10:00 बजे से 5:00 बजे तक पर्यटकों के लिए खुला रखा जाता है।

17. धाकुरिया झील, रविंद्र सरोवर

दक्षिण कोलकाता में स्थित धाकुरिया लेक एक कृतिम झील है जो 75 एकड़ के दायरे में फैला हुआ है बर्डवाचिंग के लिए इससे शानदार जगह कोलकाता में कोई और नहीं है।

कोलकाता में युवाओं के बीच धाकुरिया झील काफी लोकप्रिय है क्योंकि यह एक रोमांटिक प्लेस है इसलिए कपल्स यहां जाना बेहद पसंद करते हैं ।

इतना ही नहीं यह प्रवासी पक्षियों का भी घर है जो हजारों किलोमीटर की यात्रा तय करके यहां आते हैं यहां रूस, साइबेरिया , बांग्लादेश के अलावा और भी कई देशों से आए हुए पक्षियों को देख पाएंगे ।

कोलकाता कैसे पहुंचे ?

कोलकाता भारत में ही नहीं बल्कि दुनिया भर में अपनी यातायात सुविधाओं के लिए जाना जाता है यह देश के उन चुनिंदा शहरों में से एक है जहां भारत के कोने कोने में बसे छोटे बड़े शहरों से रोड मार्ग ,वायु मार्ग और रेल मार्ग से जुड़ा हुआ है।

  • भारत का सबसे पुराना और सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन हावड़ा है जो कोलकाता शहर में ही स्थित है जिसमें हर दिन 700 से भी ज्यादा रेल गाड़ियां गुजरती है.
  • कोलकाता स्थित नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा देश का पांचवा सबसे व्यस्त एयरपोर्ट है जहां प्रतिदिन हजारों सैलानियों का आवागमन होता है .

कोलकाता कैसे घूमें

भारत में यात्री ट्रांसपोर्टेशन के मामले में सबसे सस्ता कोलकाता शहर है आज भी यहां केवल ₹10 देकर मेट्रो का सफर कर सकते हैं।

इसके साथ ही यहां के सभी टूरिस्ट प्लेस सिटी बस, टूरिज्म बस , मेट्रो, ट्रंप , फेरी, या प्राइवेट वाहन टैक्सी के द्वारा बड़े आसानी से विजिट किया जा सकता है।

यदि आप कोलकाता से नहीं है अन्य राज्य से घूमने के लिए आए हुए हैं तो आप यहां किराए पर बाइक लेकर बड़े आसानी से शहर को एक्सप्लोर कर सकते हैं जो कि रेलवे स्टेशन बस स्टॉप या किसी भी टूरिस्ट प्लेस के आसपास आपको एजेंट मिल जाएंगे जो किराए पर बाइक प्रोवाइड ऐसी सुविधा मुहैया कराते हैं जो अलग-अलग बाइकों का अलग-अलग चार निर्धारित करते हैं स्कूटी का ₹500 सबसे कम होता है।

FAQ- कोलकाता के बारे में पूछे जाने वाले प्रश्न ?

Q. 1, कोलकाता घूमने का सही समय ?

कोलकाता घूमने का सबसे अच्छा समय सितंबर से लेकर नवंबर का होता है क्योंकि बंगाल में सबसे बड़ा उत्सव दुर्गा पूजा मनाया जाता है और इसमें दुनिया भर के लोग नवरात्रि के भव्य समारोह को देखने के लिए आते हैं .

Q. 2. कोलकाता में खाने में क्या फेमस है

कोलकाता का भोजन विश्व प्रसिद्ध है यहां के लोग सुबह उठते अपने नाश्ते की शुरुआत रसगुल्ले से करते हैं परंतु यहां की मछली, बंगाली बिरयानी, कोषा मांगशो, शुक्तो, मोचर घोंटो , भटकी खाना, बेगुन भाजा बहुत ही फेमस है.

और पढ़ें

Leave a Comment